हमारे बारे में

पशुपालन को बढावा देने तथा पशुपालक को प्रशिक्षण के माध्यम से आत्मनिर्भर बनाने के लिये पशुधन विकास मिशन ने ये पहल शुरु की है । अपने प्रशिक्षण केन्द्रो के माध्यम से पशु स्वास्थ्य कार्यकर्ता (AHW) एवं वेटरनरी फिल्ड असिस्टेंट ( VFA) को प्रशिक्षित कर के पशु सेवा केन्द्रों पर रोजगार के अवसर प्रदान करेगा जो पशुओ की चिकित्सा में सहयोग और समस्याओ के निदान में सलाह देगा | ग्रामीण पशुपालन विकास परियोजना के अंतर्गत मिशनद्वारा पशुपालको को कृत्रिम गर्भाधान और पशु प्रबन्धन से सम्बंधित सेवाएं पशुपालको के द्वार तक पहुंचाने और उच्च गुणवत्ता युक्त उत्पादों को उचित मूल्य पर उपलब्ध करवाने हेतु इस परियोजना का सञ्चालन किया जा रहा हैं । मिशनद्वारा विभिन्न योजनाओ से प्राप्त लाभांश के आधार पर उक्त परियोजना का सफल सञ्चालन और निम्न कार्यरत सभी अधिकारियों,कर्मचारियों, और मिशनसे जुड़े डीलरों को लाभांश वितरण किया जायगा ।

हमारी दृष्टि

सर्वोत्तम गुणवत्ता युक्त खाद्य उत्पाद वर्तमान विश्व समूह की मुख्य विषयवस्तु है एवं क्योंकि भारतीय अर्थव्यवस्था कृषि प्रधान रही है क्योंकि स्वतंत्रता प्राप्त होने के बाद से ही खाद्य उत्पादों के विस्तृत उत्पादन के उद्द्येश्य से हरित क्रांति, नीली क्रांति, दुग्ध क्रांति, गुलाबी क्रांति जैसे विभिन्न आयामों से गुज़रते हुए वर्तमान परिस्थितियों में उत्पादकता के उच्च स्तर के प्राप्त करने के बावजूद खाद्य उत्पादों की गुणवत्ता से विचलित होती हुई प्रतीत हो रही है I कृषक की भूमि की जोत संकुचित हुई है , जनसँख्या एवं नगरीकरण के विस्तार ने उन्नत एवं तकनीकीयुक्त कृषि एवं कृषि से जुडी अन्यान्य गतिविधियों के लिए एक अंतहीन मंच तैयार किया है इसे अधिक लाभकारी एवं गुणवत्तायुक्त बनाने की गहन आवश्यकता है I पशुधन विकास मिशन कौशल विकास के माध्यम से इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए तत्पर है I

हमारा लक्ष्य

कृषि और कृषकजनित विभिन्न गतिविधियों को कृषि उद्यम का स्वरुप प्रदान करने के लिए विशिष्ट भूमिका तैयार करना। कृषि उद्यम को तकनीकी माध्यम से अत्यधिक लाभकारी बनाते हुए गुणवत्तायुक्त खाद्यउत्पादों का अधिकतम उत्पादन हेतु वातावरण तैयार करना । शुद्ध देशी नस्ल की गाय और भैंस की उन नस्लों को पुर्नजीवन प्रदान करने के लिए मादा प्रायिकता वाले सीमेन के आधार पर कृत्रिम गर्भधान का एक संगठित तंत्र स्थापित करना जिनसे कृषक /पशुपालक न्यूनतम व्यय पर अधिकाधिक शुद्ध दूध प्राप्त कर अधिकाधिक लाभ प्राप्त कर संपन्न हो सके। पशुधन और अपशिष्ट के निस्तारण को तकनीकी सहायक से जैविक खाद्य के रूप में बदलते हुए जैविक उत्पादों की श्रृंखला का विस्तार करना और तकनीक व ई-कृषि बाजार के माध्यम से जैविक उत्पादों की ब्रांडिंग करते हुए कृषि को लाभकारी उद्यम के रूप में स्थापित करना और मानव समाज के शुद्धतम खाद्य उत्पादों की उपलब्धता सुनिश्चित करना। कृषक/पशुपालक को मृदा परिक्षण, पशु सुरक्षा, खाद्य उत्पाद सुरक्षा हेतु नवीनतम तकनीकी सहायक सुगमतापूर्वक उपलब्ध करवाना।

सम्पर्क करे

  • #31, बजरंग एन्क्लेव, ग्रीन पार्क के पास,
    बीसलपुर रोड,बरेली- 243006
  • फ़ोन करें

    +91-7454869111, +91-7454869222, +91-7454859333

  • हमें मेल भेजें

    info@pashumitra.in

आवश्यक सूचना